शुक्रवार, 2 नवंबर 2012

raashifal



टी वी पर धुरंधर ज्योतिषी , करवाचोथ पर , पत्नियों को ' टिप्स ' दे रहे हैं की वे किस रंग की साडी पहने , क्या ज्वेलरी धारण करें , कैसे पूजा करें , आहार में क्या लें ... वगेरह वगेरह !    लेकिन कोई भी ज्योतिषी ,,,' बेचारे पुरुषों ' को उनकी राशिफल अनुसार ' पत्नियों ' से टीका ' करवाने हेतु कोई टिप्स नहीं दे रहा ! 
      अतः पुरुषों के हित में ,  पूजन के समय उनकी  अपनी  स्वयं के राशि अनुसार यथोचित आचरण करने हेतु ये टिप्स प्रस्तुत हैं ,
     ,,, आनंद ले
                                     !! ॐ पत्नियाय नमः  !! 


                              
मेष ::: आपकी राशी के जातकों के भाग्य में पत्नी महिष स्वभाव की मिलती है ! आप कितना भी कहे सुने , वो हमेशा कहीं और अपने ध्यान में मगन रहेंगी ! अतः अपनी पूजा करवाते समय आप पूरी तरह चुप रहें ! काले रंग की शर्ट पहने ! लाल टीका न लगायें ! और उनसे एक निश्चित दुरी पर खड़े रह कर , पालक की पत्ती ,हाथ में छिपाए  रहें ! पत्नी यदि आपकी पूजा करते समय अपने स्वर में कुछ गाना चाहें , तो उसे प्रेम से धेर्य  पूर्वक सुने !

वृष : ::  ऐसे जातक की पत्नी   सींग लड़ाए रखनेमें ज्यादा विशवास करती  है !  वह नज़रें नीची रखती है , किन्तु लगातार फुफकारती रहती है ! समय समय पर पैर पटकती है , चोटी उठा कर ,  बार बार सामने ले आती है ! अतः आज के दिन पूजा करवाने  से पहले कहने सुनाने से दूर रहें ! हो सके तो उन्हें गुड की बनी कोई मिठाई भेंट करें ! उन्हें पीठ पर ' दुशाला ' उढा कर  , झालर वाली , गोटेदार साडी भेंट करें ! गलें में मोतियों की बड़ी माला , कई लड़ों वाली पहनाएं ! पूजा करवाते समय आशीर्वाद स्वरुप उनके माथे पर प्यार भरा स्पर्श करते रहें ! भगवान् भला करेगा !

 कर्क ::: ऐसे जातक की पत्नी दुबली पतली ' स्लिम ; होती है ! उसके हाथ हमेशा पति के गले की और बढे रहते हैं ताकि वह गले में लटक सके ! यदि पति उसे एक बार गले में लटका ले तो फिर गला कभी नहीं छुड़ा सकता है ! अतः अपनी पूजा करवाते समय हाई नेक का ' गला बंद ' कोट पहने ! पूजा से पहले पत्नी के हाथों में भारी भारी सोने के कंगन , बाजूबंद , चूडा , पहनावा दें ताकि वो हाथ बार बार ऊपर न उठा सके ! चन्दन का टीका लगवाएं तो शान्ति पूर्वक पूजा हो जाएगी ! पूजा के बाद अपने हाथों से  पत्नी को ' मेगी " खिलाएं ! कलयाण होगा !

 सिंह   :::: इस जातक की पत्नी सिघनी होती है ! वह पति को एक 'शिकार ' से ज्यादा कुछ नहीं समझती है ! यदि भूल से पति किसी अन्य स्त्री की और देख ले तो वह खूंखार हो जाती है ! इनकी पत्नियों की आवाज़ भारी और गर्जना युक्त होती है ! जब वे अपने पति को ' डांटती ' है तो अडोस पड़ोस के दस घरों तक उसकी आवाज़ सुनाई देती है ! इनसे पूजा करवाते समय पति को दोनों हाथ जोड़े खड़ा रहना चाहिए , और आँखों में आँखें डाले रखना चाहिए ! पलक झपकाना वर्जित है !  हिम्मत बढ़ने के लिए थोडा सा आसव भी ले सकते हैं ! पूजा होते ही तुरंत जितना दूर हो सकें हो जाएँ ! कल्याण होगा !

कन्या :::: ऐसे जातक की पत्नी वृद्धावस्था तक भी  सदेव बचपने की बातें करती रहती है ! वह सूरत से भोलीभाली , किन्तु स्वभाव से चंचल होती है ! अधिक समय तक ' फ्राक ' सूट , स्कर्ट जैसे वस्त्र पहनना चाहती हैं ! पूजा के समय आप इन्हें बहलाने  के लिए सलवार सूट लाकर दे दें , ऐसी पत्नियों से ज्यादा भय नहीं है ! निशंक होकर पूजा करवा सकते हैं , पर देखें की वो किसी बात पर मचल न जाएँ , वर्ना त्यौहार ख़राब हो जायेगा !

तुला ::::: ऐसे जातक की पत्नी ' वणिक बुद्धि ' की होती हैं !  वह लाभ हानि में ज्यादा विश्वाश करती है   अपने  पति को हमेशा दुसरे पत्नियों के  पतियों से तोलती रहती है , और हमेशा अपना भाग्य कोसती रहती है ! वो हमेशा अपने पति को  वैसा बनने , पैसा कमाने  , के लिए  झिड़कती रहती हैं  !  आप उसे कोई भी वस्त्र , आभूषण ला कर देंगे , तो वह उन्हें आउट आफ डेट कह के , पड़ोसन जैसे आभषण खरीदने को कहेगी ! पूजा से पहले आप उसे ऐसी दुकान से साडी लाकर दीजिये जहाँ कोई भूल कर भी नहीं जाता ! मिठाई चाहे  अन्दर एक पाव रखें   लेकिन डिब्बा   एक किलो वाला  होना चाहिए ! इनसे पूजा करवाते समय पत्नी की साड़ी  की कीमत का गुणगान अवश्य करें ! भगवन भला करेगा !

धनु ::::: ऐसे जातक की पत्नी हमेशा धनुष की तरह तनी रहती है ! इन्हें भोंहे , पलकें रंगवाने में ज्यादा दिलचस्पी रहती है ! ये दिन भर ' पार्लर ' में अपना समय व्यतीतकरना ज्यादा  पसंद करती हैं ! ये हमेशा तिरछा देखती हैं , और अपने पीछे  खड़े आदमी की नज़र भी भांप जाती हैं ! इनकी नज़र तीर की तरह घातक और कभी कभी ज़हरीली होती है ! इनसे पूजा करवाते समय , इनसे आँख न लड़ाएं ! चुपचाप सर आगे करके टीका लगवा लें ! उपहार में विदेशी सोंदर्य प्रसाधन ला कर देदें तो कल्याण होगा !

 मकर ::::: ऐसे जातक की पत्नी को ' जल ' से  लगाव होता है ! ये घंटो तक ' आंसू ' बहा सकती हैं !  ! वे बहुत धीरे धीरे , बिना आहट बोलती और  चलती हैं , और अचानक कहीं भी  पीछे से आकर प्रकट हो जाती हैं ! इन्हें स्वीमिंग  पूल  अच्छा लगता है !  और ये बहुदा नान वेजीटिरायण होती हैं !  इन्हें पूजा से पहले एक बड़ा सा , मोतियों वाला नथ, पहनवा  देना चाहिए , ताकि इन्हें मुह खोलने में अड़चन हो ! पूजा करवाते समय पति को ग्रे कलर का सूट पहनना चाहिए , और भूल कर भी टाई नहीं लगनी चाहिए !   पूजा के तुरंत बाद पत्नी को  एक भोज देना चाहिए! भगवान् भला करेगा !  ,

 कुम्भ ::::: इस राशी के जातक की पत्नी प्रायः गोलमटोल , ठिगने कद वाली , एक ' मटके ' के सामान होती हैं ! वह जब चलती हैं तो लगता है की जैसे  धीरे धीरे कोई फ़ुटबाल लुढ़क रही है ! ये हमेशा ज्ञान से भरी रहती हैं , और पति की कोई भी बात ग्रहण करना पसंद नहीं करती ! इन्हें भोजन प्रिय होता है , और हमेशा कुछ न कुछ खाते रहने में विशवास करती हैं ! इन्हें उपदेश देना अच्छा लगता है , और चाहती हैं की सब उनके बताये मार्ग पर चलें ! इन्हें अपने  गले को सजाने , तरह तरह के हार पहनने का शोक होता है ! इनसे पूजा करवाते समय सतर्क रहें की यह लुढ़क कर पति पर गिर न पड़ें ! ठंडा कोकोकोला या कोई भी पेय पदार्थ इन्हें प्रदान करें , ये शांत रहेंगी !

 मीन :::: इस राशी के जातक की पत्नी ' चुलबुली ' प्रकृति की होती है ! वह एक स्थान पर शांत होकर नहीं रह सकती ! इन्हें झुण्ड में सहेलियों के साथ बाज़ार में विचरना अच्छा लगता है ! रंग बिरंगी आर्टिफिशयल ज्वेलरी इनकी पहली पसंद है ! मोतियों , शंखों से बने 'नेचुरल ' गहने पहनना चाहती हैं ! अपनी त्वचा के प्रति बहुत सतर्क रहती हैं , और चाहती हैं की वह सदा कोमल , चिकनी बनी रहे ! इसके लिए बाज़ार में मिलने वाले सभी सोंदर्य प्रसाधन वे खरीदती  रहती हैं ! इनसे पूजा करवाते समय आप स्थिर खड़े रहें , हिलें दुलें नहीं ! आसमानी कलर का सूट पहने ! पूजा के बाद इन्हें आते का बना हलुवा खिलाएं , ये प्रसन्न रहेंगी !

                                    ( भगवान् भला करे )